WI vs Eng: यूनिवर्स बॉस क्रिस गेल ने कहा- 60 वर्ष की उम्र में भी करना चाहता हूं ये काम

0
194

नई दिल्ली, जेएनएन। वेस्टइंडीज के तूफानी ओपनर बल्लेबाज क्रिस गेल ने इंग्लैंड के खिलाफ वनडे सीरीज में अपने बल्ले का खूब दम दिखाया। इस उम्र में भी गेल जिस तरह की बल्लेबाजी कर रहे हैं उससे पूरी दुनिया हैरान है। वैसे गेल कह चुके हैं कि वो विश्व कप के बाद क्रिकेट को अलविदा कहना चाहते हैं। इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी वनडे मैच में 27 गेंदों पर तूफानी 77 रन की पारी खेलने वाले गेल ने कहा कि टीम की जर्सी पहनना उनके लिए काफी सम्मान की बात है और उन्होंने अपनी इच्छा जाहिर करते हुए कहा कि उनकी इच्छा है कि जब वो 60 वर्ष के हो जाएं तब भी दुनिया के बेस्ट गेंदबाजों के खिलाफ दमदार प्रदर्शन कर सकें। 

गेल ने कहा कि कैरेबियाई धरती पर ये मेरा आखिरी वनडे सीरीज है इस वजह से मैं क्रिकेस फैंस का अच्छे से मनोरंजन कर रहा था। पूरे टूर्नामेंट के दौरान दर्शकों ने दोनों टीमों का समर्थन किया। अगर ये मैच जमैका में होता तो और अच्छा था लेकिन यहां पर भी काफी तादाद में दर्शक मौजूद थे। 

इस सीरीज में अपने प्रदर्शन के बारे में गेल ने कहा कि मैंने जिस तरह से खेला उससे मैं आश्चर्य में नहीं हूं। ये मेरा स्वाभाविक खेल है। टी 20 क्रिकेट में मैंने काफी छक्के लगाए हैं लेकिन ये पहला मौका था जब वनडे सीरीज में मैंने 39 साल की उम्र में 39 छक्के लगाए। मेरा ऐसा सोचना है कि जब मैं 60 वर्ष का हो जाउं तब भी मैं दुनिया के सबसे बेहतरीन गेंदबाज के विरुद्ध रन बना पाउं और मेरी ये सोच कभी नहीं बदलेगी। 

गेल ने कहा कि मैं अपनी फॉर्म का शुक्रगुजार हूं। मैं टी 20 टूर्नामेंट में ज्यादा रन नहीं बना पा रहा था। जब आपको रन बनाने का मौका मिलता है तो इसे आप भुनाने की कोशिश करते और स्कोर करते हैं लेकिन घरेलू परिस्थितियों में खेलना, सबसे अच्छी बात रही और इसके लिए मैं खुश और आभारी हूं। गेल ने पांच मैचों की वनडे सीरीज में 424 रन बनाए। गेल के शानदार प्रदर्शन के लिए उन्हें प्लेयर ऑफ द सीरीज चुना गया। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

79 + = 80