मखक्षेत्र मित्र मंडल संघ ने 51 दीप जलाकर की मनोरमा की महाआरती

0
80

परशुरामपुर से निखिल पाण्डेय की रिपोर्ट


पौराणिक महत्व रखने वाली मां मनोरमा के घाट पर पूर्णिमा के अवसर पर शनिवार को शाम 6:00 बजे 51 दीपो से मनोरमा नदी की महाआरती की गई इस अवसर पर लोगों ने पुण्य सलिला मनोरमा को निर्मल बनाने का संकल्प लिया गौरतलब है कि अयोध्या के चक्रवर्ती सम्राट महाराज दशरथ ने पुत्र प्राप्ति हेतु गुरु वशिष्ट के आज्ञा से मखौडा मे ही श्रृंगीऋषि द्वारा पुत्रेष्ठि यज्ञ करवाया था मखक्षेत्र मित्र मंडल के तत्वधान में प्रत्येक महीने के पूर्णिमा के दिन मखौड़ा के मनोरमा घाट पर मां मनोरमा की महाआरती की जाती है इसी क्रम में पूर्णिमा की संध्या बेला पर मित्रमंडल पदाधिकारी, जनप्रतिनिधियों,समाजिक कार्यकर्ताओं एवं गणमान्य लोगों ने एकत्रित होकर राम जानकी मंदिर के पुजारी सूर्य नारायण दास वैदिक के साथ मनोरमा नदी की आरती का गायन किया।51 दीप जलाकर मनोरमा की महाआरती उतारी तत्पश्चात नदी एवं मनोरमा घाट तथा स्वच्छता पर विचार विमर्श किया गया लोगों ने घाटों के सौंदर्यीकरण और नदी की साफ सफाई व निर्मल बनाने का संकल्प लिया इस मौके पर नितेश दास,चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामा,विनोद पाण्डेय,महेन्द्र पाण्डेय,रामगोपाल पाण्डेय,अखिलेश पाण्डेय बाबा,अरविन्द पाण्डेय,श्यामानंद पाण्डेय,दुर्गेश पांडे,चंद्रधर शुक्ला, बृजेश शुक्ला,रामपाल मिश्रा,अमन मिश्रा,शिवम तिवारी,विशाल तिवारी,सम्पूर्णानन्द ओझा,सवितानन्द ओझा,स्वर्ण लता,गरिमा,ब्यूटी,उषा,श्रेया सहित क्षेत्र के तमाम लोग उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

72 + = 77