नियमित टीकाकरण पर सामुदायिक सहयोगियों एवं प्रभावशाली व्यक्तियों का अभिमुखीकरण।

-नियमित टीकाकरण में सहयोग देने वालों को जिलाधिकारी ने किया सम्मानित।

अलीगढ़ से सौरभ पाठक की रिपोर्ट।

अलीगढ़। नियमित टीकाकरण में सहयोग करने वाले सामुदायिक सहयोगियों एवं प्रभावशाली व्यक्तियों के लिए मंगलवार को यूनिसेफ व स्वास्थ्य विभाग के सहयोग से जनपद स्तरीय अभिमुखीकरण का आयोजन किया गया। इसी के साथ गत महिनों में टीकाकरण से वंचित बच्चों के परिवारों को समझाकर शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने में सहयोग देने वाले पचास लोगों को डीएम ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

इस मौके पर जिलाधिकारी इंद्र विक्रम सिंह ने भ्रांतियों को दूर कर शत-प्रतिशत टीकाकरण कराने में सहयोग करने के लिए यूनिसेफ तथा स्वास्थ्य विभाग की टीम की प्रशंसा की। साथ ही समुदाय के उन प्रभावशाली लोगों का आभार जताया जिन्होंने किसी गलत धारणा के वशीभूत होकर नियमित टीकाकरण का विरोध करने वालों को टीकाकरण के पक्ष में तैयार करवाने में भूमिका निभाई है। उन्होंने कहा कि सभी के प्रयास से पोलियो का उन्मूलन हो गया है। ऐसे ही 12 जानलेवा बीमारियों के प्रति टीका लगाकर इनको भी इस देश से अलविदा कह दिया जाए। उन्होंने कहा कि इस कार्य को करने के लिए शत प्रतिशत नियमित टीकाकरण कराना अनिवार्य है। जिसमें जन सहयोगियों का अहम दायित्व है। डीएम ने कहा कि आज हम बहुत ही दूषित वातावरण में जी रहे हैं। अक्सर नए-नए वायरस स्वास्थ्य के लिए चुनौतियां पैदा कर रहे हैं। उनका कहना है कि बच्चों को समय से सारे टीके लग जाएं, तो उनका भविष्य स्वास्थ्य सम्बन्धी चुनौतियों से मुक्त रहेगा।

सीएमओ डॉ. नीरज त्यागी ने समाज के प्रभावशाली लोगों से टीकाकरण का विरोध करने वालों को टीकाकरण के पक्ष में तैयार करवाने के लिए सहयोग मांगा, जिससे कि शत प्रतिशत टीकाकरण की राह आसान हो और समाज जटिलताओं से भरी बीमारियों से मुक्त रहें। उन्होंने बताया कि कोई भी बड़ा लक्ष्य बिना समाज को साथ लिए बिना पूरा नहीं किया जा सकता है। साथ ही स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न सेवाओं के बारे में भी अवगत कराया और सामुदायिक सहयोगियों से सहयोग की अपेक्षा की।

यूनीसेफ के रीजनल कोऑर्डिनेटर खालिद ने बताया कि बच्चे के जन्म से लेकर पांच साल तक यदि सात टीके लग जाए, तो बच्चे की बुनियाद मजबूत हो जाती है, और उसे 12 जानलेवा बीमारियों से बचाया जा सकता है।

डीएमसी शादाब अहमद ने कहा कि पहले भी समाज के सहयोग से चेचक और पोलियो पर विजय प्राप्त की गयी है, उम्मीद है कि नियमित टीकाकरण में भी सभी लोग आगे आकर अपने बच्चों का टीकाकरण कराएंगे।

कार्यक्रम में डिस्ट्रिक्ट कोऑर्डिनेटर पूनम यादव, बीएमसी यूनिसेफ जब्बार खान व इमरान खान, जेएसआई कीर्ति वार्ष्णेय और पचास सामुदायिक सहयोगी मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *