इंडिया इंटरनेशनल साइंस फेस्टिवल में प्रगतिशील किसान राममूर्ति मिश्र करेंगे शिरकत।

धर्मेन्द्र कुमार पाण्डेय की रिपोर्ट।

● दुनिया भर के कृषि विशेषज्ञों के साथ साझा करेंगे विचार। ● प्रधानमन्त्री उद्घाटन तो उपराष्ट्रपति करेंगे समापन।  

बस्ती। जनपद के सदर ब्लाक के गाँव गौरा के रहने वाले किसान राम मूर्ति मिश्र छठे इंडिया इंटरनेशनल साइंस फेस्टिवल में प्रदेश के चुनिन्दा किसानों के साथ प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी के साथ होने वाले उद्घाटन समारोह में शिरकत करने के साथ ही 22-25 दिसंबर तक होने वाले वर्चुअल कृषि परिचर्चा में दुनिया भर के कृषि विशेषज्ञों के साथ अपने अनुभव और विचार भी साझा करेंगे। इंडिया इंटरनेशनल साइंस फेस्टिवल का इस बार वर्चुअल आयोजन विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्रालय, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय और पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय विजन भारती द्वारा संयुक्त रूप से किया जा रहा है। जिसका उद्घाटन 22 दिसंबर 2020 को सायं 4:00 बजे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा किया जा रहा है जबकि 25 दिसंबर 2020 को शाम 4:00 बजे उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू द्वारा समारोह का समापन किया जाएगा। इस कार्यक्रम में वर्चुअल मोड में शामिल होने के लिए प्रगतिशील किसान राममूर्ति मिश्रा को सीएसआईआर-नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस, टेक्नोलॉजी एंड डेवलपमेंट स्टडीज की निदेशक प्रो. रंजना अग्रवाल नें ईमेल के जरिये आमंत्रित किया है।अंतर्राष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव 2020 में एग्रीटेक इवेंट के जरिये खेती की नई तकनीकियों के प्रदर्शन के साथ ही खोजों पर भी प्रकाश डाला जाएगा। जिसमें राम मूर्ति मिश्र खेती में किये जा रहे अभिनव प्रयोगों की जानकारी विशेषज्ञों से शेयर करेंगे। वह अगले 4 दिनों तक लगातार इस इवेंट से वर्चुअल मोड में जुड़े रह कर खेती की बारीकियां भी सीखेंगे। इससे पहले भी राममूर्ति मिश्र सरकार द्वारा आयोजित राज्य व राष्ट्रीय लेवल के कार्यक्रमों में अपने अनुभव साझा करते रहे हैं। वह जनपद के उन किसानों में शुमार हैं जो अपने खेत में बिना किसी रासायनिक खाद व कीटनाशकों के उपयोग के ही फसल उगाते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *