एनसीपीईडीपी-बजाज फिनसर्व छात्रवृत्ति : दिव्यांग छात्रों के सशक्तिकरण की दिशा में महत्वपूर्ण पहल।

Vijaydoot News

•नि:शक्त जनों के लिए बनी नीतियों के प्रति दिव्यांग छात्रों, उनके अभिभावकों और शिक्षकों को जागरूक करने के लिए कार्यशाला का किया गया आयोजित।

गोविन्द कुमार प्रजापति।

लखनऊ। नेशनल सेंटर फॉर प्रोमोशन ऑफ एंप्लॉयमेंट फॉर डिसेबल्ड पीपुल (एनसीपीईडीपी) ने दिव्यांग छात्रों के लिए छात्रवृत्ति कार्यक्रम की पेशकश करने के उद्देश्य से भारत की अग्रणी वित्तीय सेवा प्रदाता बजाज फिनसर्व लिमिटेड के साथ भागीदारी की है। एनसीपीईडीपी की ओर से रविवार को दिव्यांग छात्रों, उनके माता-पिता और शिक्षकों के लिए एक जागरूकता कार्यशाला का आयोजन किया गया, जिसमें नि:शक्त व्यक्तियों (PwDs) के अधिकारों और उन्हें सशक्त बनाने के उद्देश्य से लागू कल्याणकारी नीतियों की जानकारी दी गई।

एनसीपीईडीपी-बजाज फिनसर्व छात्रवृत्ति कार्यक्रम का उद्देश्य उत्तर प्रदेश और महाराष्ट्र के कुल 100 दिव्यांग छात्रों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है, जो माध्यमिक, उच्चतर माध्यमिक तथा उच्च शिक्षा प्राप्त कर रहे हैं। इसके लिए चयनित दिव्यांग छात्रों को छात्रवृत्ति प्रमाण पत्र प्रदान करते हुए सेवानिवृत्त आईएएस अधिकारी तथा उत्तर प्रदेश के माननीय मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के सलाहकार श्री अवनीश कुमार अवस्थी ने कहा, ‘दिव्यांग छात्रों के लिए छात्रवृत्ति कार्यक्रम शुरू करने के लिए एनसीपीईडीपी और बजाज फिनसर्व लिमिटेड सराहना के पात्र हैं। दिव्यांग जनों का समावेशी सशक्तिकरण हम सब की सामूहिक जिम्मेदारी है।’

इस मौके पर एनसीपीईडीपी के कार्यकारी निदेशक अरमान अली ने कहा, ‘बजाज फिनसर्व के साथ मिलकर दिव्यांग छात्रों के लिए छात्रवृत्ति कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए हमें बेहद प्रसन्नता है। शिक्षा सशक्तिकरण की कुंजी है, और हम यह सुनिश्चित करने के लिए प्रतिबद्ध हैं कि प्रत्येक दिव्यांग छात्र के लिए गुणवत्तापूर्ण शिक्षा हासिल करना सुलभ हो।’

उन्होंने कहा कि ‘एनसीपीईडीपी-बजाज फिनसर्व छात्रवृत्ति कार्यक्रम समाज के आर्थिक रूप से कमजोर वर्गों के दिव्यांग छात्रों को शिक्षा के लिए सहयोग करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण पहल साबित होगी। जागरूकता कार्यशाला में दिव्यांग छात्रों को उनके लिए सरकार द्वारा बनाई गई नीतियों और कल्याणकारी कार्यक्रमों के बारे में जानकारी दी गई। इस तरह के आयोजन में ज्ञान के आदान-प्रदान से दिव्यांग छात्रों के साथ-साथ उनके माता-पिता और शिक्षकों के आत्मविश्वास में भी वृद्धि होगी!कार्यशाला के विभिन्न सत्रों में बड़ी संख्या में शामिल हुए लोगों ने भारत में नि:शक्त जनों के अधिकारों, उनसे जुड़े मुद्दों और चुनौतियों के संदर्भ में व्यावहारिक दृष्टिकोण तथा रोजगार के अवसरों के बारे में ज्ञानवर्धक जानकारी हासिल की। इस दौरान विद्यार्थियों को रोजगार के टिप्स भी दिए गए।’

एनसीपीईडीपी-बजाज फिनसर्व छात्रवृत्ति’ में जरूरत और बजट के अनुसार दिव्यांग छात्रों के लिए ट्यूशन फीस, सहायक प्रौद्योगिकी लागत और अन्य संबंधित खर्च शामिल होंगे। यह कार्यक्रम दिव्यांग छात्रों कशिक्षा और सशक्तिकरण के लिए एनसीपीईडीपी और बजाज फिनसर्व की प्रतिबद्धता का प्रतिफल है। यह पहल अधिक समावेशी समाज बनाने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है, जिसके जरिये दिव्यांग छात्रों को अपनी पूरी क्षमता तक पहुंचने का अवसर मिलेगा।
‘एनसीपीईडीपी-बजाज फिनसर्व छात्रवृत्ति’ कार्यक्रम के बारे में अधिक जानकारी के लिए वेबसाइट देखें: www.ncpedp.org