प्रसूताओं को निजी चिकित्सालय में ले जाने वाली चिन्हित 8 आशाओं को बर्खास्त करने का डीएम ने दिये निर्देश।

Vijaydoot News

बस्ती। प्रसूताओं को निजी चिकित्सालय में ले जाने वाली चिन्हित 8 आशाओं को बर्खास्त करने के लिए जिलाधिकारी अंद्रा वामसी ने प्रभारी चिकित्सारियों को निर्देशित किया है। कलेक्ट्रेट सभागार में जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में उन्होंने जननी सुरक्षा योजना के अंतर्गत लाभार्थियों के भुगतान में जनपदीय औसत 74 प्रतिशत से कम पाये जाने पर गौर, रूधौली के प्रभारी चिकित्सा अधिकारियों का वेतन रोकने तथा मेडिकल कालेज के प्रधानाचार्य का स्पष्टीकरण प्राप्त करने का निर्देश दिया है। टीबी अस्पताल में रोगियों के सुविधाओं के लिए प्राप्त धनराशि व्यय न किये जाने पर उन्होंने टीबी हास्पिटल के प्रभारी डा0 रामप्रकाश का वेतन रोकने का निर्देश दिया है।

विभिन्न योजनाओं में धीमी प्रगति पाये जाने पर जिलाधिकारी ने अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 ए0के0 मिश्रा का स्पष्टीकरण तलब करने का निर्देश दिया है। उन्होंने विभिन्न योजनाओं में धीमी प्रगति पाये जाने पर रूधौली प्रभारी चिकित्साधिकारी का स्थानान्तरण करने का निर्देश दिया है। उन्होंने पर्याप्त संख्या में ए0एन0एम0 की उपलब्धता के बावजूद 14 रिक्त उपकेन्द्र पाये जाने पर असंतोष व्यक्त किया तथा सी0एम0ओ0 को तत्काल तैनाती करने का निर्देश दिया हैं

आशाओं के चयन की समीक्षा करते हुए उन्होंने डीपीआरओ को निर्देशित किया है कि रिक्त स्थानों पर ग्राम प्रधानों के सहयोग से चयन पूर्ण करायें। आशाओं के कुल 82 स्थान रिक्त हैं। उन्होंने हेल्थ वेलनेस सेंटर का कायाकल्प कराने के लिए भी डीपीआरओ को निर्देशित किया है। उन्होंने विद्युत विभाग को निर्देश दिया कि 81 हेल्थ एण्ड वेलनेस सेंटर पर तत्काल विद्युत कनेक्शन उपलब्ध कराना सुनिश्चित करायें। इसके लिए केबिल सम्बन्धित एम0ओ0आई0सी0 उपलब्ध करायेंगे।

जिलाधिकारी ने कप्तानगंज के बरहटा, विक्रमजोत के सवेरा तथा साऊंघाट के गंधरिया में स्वास्थ्य उपकेन्द्र के निर्माण हेतु भूमि उपलब्ध कराने के लिए सम्बन्धित उपजिलाधिकारियों को निर्देशित किया है। उन्होंने बैठक में लिए गये निर्णयों का समय से अनुपालन कराने के लिए सीडीओ जयदेव सी0एस0 को जिम्मेदारी सौंपा है। उन्होंने कहा कि सभी योजनाओं के प्रभावी संचालन के लिए सभी आशा और ए0एन0एम0 की ट्रेनिंग करायी जाय। उन्होंने निर्देश दिया कि सभी 14 सीएचसी पर एक प्रभारी चिकित्साधिकारी के साथ दो मेडिकल आफीसर तथा सभी 39 पीएचसी पर एक मेडिकल आफीसर की तैनाती सुनिश्चित करें। सभी 369 सब सेन्टर पर कम कम से कम एक ए0एन0एम0 की अवश्य तैनाती की जाय।

बैठक का संचालन डीपीएम राकेश पाण्डेय ने किया। बैठक में सीडीओ जयदेव सी0एस0, सी0एम0ओ0 डा0 आर0पी0 मिश्रा, एसीएमओ डा0 ए0के0 मिश्रा, एसआईसी डा0 सी0एस0 कौशल, सीएमएस महिला अस्पताल डा0 पी0के0 श्रीवास्तव, सीएमएस मेडिकल कालेज डा0 ए0एन0 प्रसाद, डीपीआरओ रतन कुमार, डीपीओ सावित्री देवी, डा0 ए0के0 कुशवाहा, अधिशासी अभियन्ता विद्युत महेन्द्र मिश्र तथा मनोज कुमार, ईओ नगर पालिका दुर्गेश्वर त्रिपाठी, सभी प्रभारी चिकित्साधिकारीगण तथा जिला समन्वयक उपस्थित रहे।