अब कंटेनमेंट एरिया को सिर्फ 14 दिन के लिए किया जाएगा सील।

शासन के निर्देशों के अनुपालन में अब कन्टेन्मेंट ऐरिया की अवधि होगी 14 दिन, भविष्य में कोरोना संक्रमित लोगों के उपचार के लिए जिले के विभिन्न स्थानों में कोरोना वायरस संक्रमित व्यक्तियों के उपचार के लिए अतिरिक्त 500 बेड की क्षमता वाले नए कोविड एल-1 अस्पतालों की की जाएगी स्थापना-जिलाधिकारी

जिलाधिकारी रमाकांत पांडे

बिजनौर। जिलाधिकारी रमाकान्त पाण्डेय ने मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिए कि जिस नर्सिंग होम में कोरोना का पाॅजेटिव मरीज पाया गया था, उसे कम से कम 04 दिन के लिए सील करा दें और नियमित रूप से उसका सेनीटाईजेशन कराएं तथा वहां कार्यरत चिकित्सकों सहित समस्त स्टाफ का चैकअप कराना सुनिश्चित कराएं। उन्होंने बाताया कि शासन द्वारा कन्टेंमेंट एरिया में 21 दिन तक गतिविधियों पर पाबंदी के स्थान पर उसे कम करते हुए अब 14 दिन के लिए कर दिया गया है। उक्त सम्बन्ध में उन्होंने सभी उपजिलाधिकारियों को निर्देश दिए कि जिन क्षेत्रों को कन्टेंमेंट एरिया के रूप में सील किया गया है, यदि उनमें से जो एरिया 14 दिन या उससे अधिक की अवधि पूरी कर चुके हों, वहां से बैरिकेटिंग हटा ली जाए ताकि वहां सामान्य स्थिति बहाल हो सके।
जिलाधिकारी श्री पाण्डेय आज अपने कार्यालय कक्ष में नियमित रूप से कोविड-19 से संबंधित गतिविधियों की समीक्षा के लिए आयोजित बैठक की अध्यक्षता करते हुए उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे।
उन्होंने कहा कि शासन द्वारा निर्देशित किया गया है कि भविष्य में कोरोना संक्रमित लोगों के उपचार के लिए जिले के विभिन्न स्थानों में कोविड-19 एल-1 के उपचार के लिए अतिरिक्त 500 बेड की क्षमता वाले अस्पतालों की स्थापना की जाए। उक्त सम्बन्ध में उन्होंने निर्देश दिए कि प्रत्येक तहसील स्तर पर 100-100 बेड की क्षमता वाले अस्थाई कोविड-19 एल-1 अस्पताल की स्थापना करना सुनिश्चित करें तथा इसके लिए यथासम्भव स्कूल/काॅलेज को छोड़ कर सरकारी भवनों का प्रयोग करें। उन्होंने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देशित किया शासन के निर्देशों के अनुपालन में जो कन्टेन्मेंट एरिया 14 दिन या उससे अधिक की अवधि पूरी कर चुके हैं, उनको तत्काल समाप्त करते हुए सामान्य गतिविधियों को संचालित करने की अनुमति प्रदान कराएं।
समीक्षा के दौरान पाया गया जिले में कुल 66 कन्टेन्मेंट एरिया में 36 एरिया 14 या उससे ज्यादा की अवधि पूरी कर चुके हैं, वर्तमान समय में जिले में केवल 30 कन्टेन्मेंट एरिया शेष रह गए हैं। जिले में आज तक कुल 27 कोरोना पाॅजेटिव मामले एक्टिव हैं, जिन में 20 का इलाज जिला बिजनौर के स्वाहेड़ी क्षेत्र में स्थित लेखपाल प्रशिक्षण केन्द्र में बनाए गऐ कोविड एल-01 अस्पताल में, 06 टीएमटी तथा 01 मरीज का इलाज एमसीएच मुरादाबाद में किया जा रहा है। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी तथा नोडल अधिकारी कोरोना को निर्देश दिए कि नए कोविड एल-01 अस्पतालों के स्थानों का निरीक्षण कर वहां सभी आवश्यक उपकरण, सामग्री, दवाईयां आदि की समुचित व्यवस्था करने की कार्यवाही करना सुनिश्चित करें।
इस अवसर पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन विनोद कुमार गौड़, न्यायिक डा0 नितिन मदान, संयुक्त निदेशक स्वास्थ्य डा0 अनिल कुमार, मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 विजय कुमार यादव, नोडल अधिकारी कोरोना डा0 एस के निगम, जिला अस्पताल पुरूष एवं महिला के मुख्य चिकित्साधीक्षक सहित अन्य संबंधित अधिकारी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *