श्रद्धालुओं को सीओ ने अपने खर्च से भेजा घर।

हरिद्वार (उत्तराखंड) से शैलेंद्र कुमार की रिपोर्ट।             

हरिद्वार। लॉक डाउन में फंसे हरदोई उत्तर प्रदेश के दो दृष्टिहीन श्रद्धालुओं व एक महिला के लिए सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह फरिश्ता साबित हुए। हरिद्वार से पैदल घर लौटने को मजबूर इन श्रद्धालुओं के लिए उन्होंने अपने खर्च से घर पहुंचने का इंतजाम कराया। पुलिस के मुताबिक दृष्टिहीन रुकीम व सूरदास और उनके साथ विमला 20 मार्च को हरदोई से गंगा स्नान को हरिद्वार आए थे। तीन-चार दिन ठहरने के बाद उन्हें लौटना था, लेकिन 22 मार्च को जनता कर्फ्यू और अगले दिन से लॉक डाउन लागू होने के चलते तीनों हरिद्वार में ही फस गए। जैसे तैसे 2 माह गुजरने के बाद तीनों बुधवार को पैदल हरदोई के लिए रवाना हुए। जिसमें विमला ही आंखों से देख सकती है, इसीलिए आगे विमला और उसके पीछे पीछे सूरदास व रूकीम कनखल से लक्सर की ओर जा रहे थे। जगजीतपुर में मीडिया कर्मी अरुण कश्यप ने उनसे रोककर कारण पूछा। इस प्रकार यह मामला सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह की जानकारी में आया। सी ओ अभय सिंह ने तीनों श्रद्धालुओं के लिए न सिर्फ भोजन पानी की व्यवस्था कराई, बल्कि घर पहुंचाने के लिए अपने खर्च से गाड़ी का इंतजाम भी किया।

Print Friendly, PDF & Email

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *